मामा की बीवी पर हक़ जमाया

(Mama ki biwi par hak jamaya)

हेलो फ्रेंड्स.. मेरी बहुत दिनों से इच्छा थी कि मैं भी अपने सेक्स अनुभव को आप सभी के साथ शेयर करूं.. तो मैंने अपनी एक कहानी लिख दी जो बहुत सेक्सी और हॉट है.. लेकिन अपनी कहानी पर आने से पहले मैं अपने बारे में थोड़ा बहुत बता दूँ. मेरा नाम मोन्टी है और मेरी उम्र 26 साल, हाईट 5.8 इंच रंग साफ मैं पुणे महाराष्ट्र में रहता हूँ और यहीं कि एक बहुत बड़ी कंपनी में नौकरी करता हूँ. मुझे अपनी उम्र से ज़्यादा बड़ी उम्र की लड़कीयों में रूचि है. दोस्तों.. यह बात दो महीने पहले की है जब मैंने अपनी मामी को चोदा.. एक दिन मेरे मामा का कॉल आया कि मामी को लेकर मार्केट जाना है और उनको काम से फ़ुर्सत नहीं हैं. वो भी पुणे में ही रहते है. वो दिन शनिवार का था और मेरे ऑफिस की शनिवार और रविवार की छुट्टी रहती है और मैं भी घर पर बोर हो रहा था.. तो मैंने सोचा कि मेरा भी उनके साथ टाईम पास हो जाएगा इसलिए मैंने हाँ कर दी.

फिर मैं सफेद कलर की शर्ट और जिन्स पहन कर मामी को लेने उनके घर पर निकल गया. उनका घर मेरे रूम से 4 किलोमीटर की दूरी पर है.. तो मैं अपनी बाईक लेकर गया. मैं जब उनके घर पहुंचा तो मामी मेरी ही राह देख रही थी. मेरे आते ही उसने मुझे बैठने को कहा और मेरे लिए पानी लेकर आई उसने पंजाबी सूट पहना था. मेरी मामी की उम्र 42-45 के बीच होगी और हाईट 5.3 इंच. मामी के बूब्स 38 और गांड तो पूछो ही मत इतनी बड़ी है वो देखकर ही लंड खड़ा हो जाए. फिर हमने इधर-उधर की बातें की और फिर 10 मिनट में मामी बोली कि उनको मार्केट जाकर कुछ शॉपिंग करनी है. तो मैंने कहा कि मामा ने मुझे फोन करके कहा है कि आपको ले जाऊ. फिर वो मामा के बारे में बताने लगी कि उनके पास तो बिल्कुल भी टाईम नहीं रहता है हर बार कुछ ना कुछ बहाना बनाकर टाल देते है. अभी तू आया नहीं होता तो मुझे अकेली को जाना पड़ता.

तो मैंने कहा कि मामी आप मुझे कभी भी बुला लिया करो. मैं तो वैसे भी बोर होता रहता हूँ और आपके साथ मेरा भी टाईम पास हो जाएगा. फिर ऐसा कहने के बाद मामी अपनी जगह पर से उठकर मेरे पास आई और मेरे सर को अपने हाथों से पकड़ कर कहा कि एक तू ही है जिसको मेरी फ़िक्र है. मेरा प्यारा बच्चा और यह कहकर मेरे गाल पर एक स्वीट सा किस दिया. फिर हम बाहर निकल पड़े. वो बाईक पर मुझसे बहुत दूरी बनाकर बैठी थी और जब भी बात करने झुकती उनके  बूब्स टच होते. फिर हम लोग 3-4 घंटे की शॉपिंग के बाद घर लौटे तब शाम के 6 बज रहे थे और हम दोनों धूप से परेशान होकर बेडरूम में जाकर ऐसी चालू करके बैठ गये. मामी ने कहा कि तू आया इसलिए मेरे इतने सारे काम एक झटके में खत्म हो गये.. नहीं तो तेरे मामा के पीछे लग लगकर मेरा बहुत बुरा हाल हो जाता है. मैंने कहा कि मामी कभी भी ज़रूरत पड़े तो मुझे बुला लिया कीजिए. मैं आपके लिए समय निकाल लूँगा. मामी मुझे धन्यवाद देकर बोली कि मैं पहले नहा लेती हूँ.. फिर तू नहाना और आज रात का खाना तू इधर ही खाएगा. फिर यह कहकर वो नहाने चली गयी और थोड़ी देर बाद वो नहाकर मेक्सी पहन कर बाहर आई और हल्के गुलाबी कलर की सिल्क मेक्सी पहनकर क्या कयामत लग रही थी.. उसके बड़े बूब्स बड़ी गांड वाह और मैंने सोच लिया कि अंदर जाकर उसके नाम की मुठ मारूँगा.

फिर उसने कहा कि तू नहाने चला जा मैंने उनसे टावल लिया और नहाने चला गया और अंदर उनकी पसीने से गीली पेंटी और ब्रा पड़ी थी.. जाते ही मैंने पेंटी उठाई उसको बहुत देर तक सूँघा और जीभ से चाटने लगा. वाह्ह क्या स्मेल थी उसकी चूत और पसीने की मिक्स. मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया और फिर मुठ मारकर उसको शांत करके मैं नहाकर वापस बाहर आया. मामी बेडरूम में ही थी उसने पूछा कि क्यों नहाने में बड़ी देर लगाई? मैंने उसको देखकर हल्का सा स्माईल किया और थोड़ी देर टावल लपेट कर ऐसे ही घूमता रहा. फिर मैंने कपड़े पहन लिए और मामी के साथ बात करने किचन में चला गया.. मामी ने मेक्सी के अंदर कुछ नहीं पहना था उनसे बात करते वक़्त मेरा पूरा ध्यान उनकी गांड और बूब्स पर था और मुझे पता नहीं मेरा लंड कब पूरा खड़ा हो गया था? इतने में मामी ने मुझे एक डिब्बा ऊपर से उतारकर देने को कहा और मेरा ध्यान अपने लंड पर नहीं था और मैं वैसे ही उठ गया.. मेरा लंड पूरा खड़ा साफ साफ दिख रहा था.

मेरे डब्बा नीचे उतारते वक़्त मामी गौर से मेरे लंड की तरफ देख रही थी.. मेरा लंड 5.7 इंच है. सामान देते वक़्त और मेरे पास से गुज़रते वक़्त मामी मुझे जानबूझ कर कुछ ज़्यादा ही छूने लगी उसको पता था कि मैं गरम हो गया हूँ. कुछ देर बाद मामा घर आ गए और वो मुझे देखकर बहुत खुश हो गये और बोले कि अरे बेटा तू इधर है.. बहुत अच्छा हुआ. मुझे आज रात दो बजे की फ्लाईट से ऑफिस के किसी बहुत जरूरी काम से दिल्ली जाना है और मैं तीन दिन के बाद आने वाला हूँ. आज तू मुझे एयरपोर्ट ड्रॉप कर दे और हम कार लेकर जाएगे और तेरी मामी को भी साथ में ले चलते है. तो मैंने कहा कि ठीक है फिर हम लोगों ने खाना खाना शुरू किया मैं मामी के पास में बैठा था और मैंने जानबूझ कर उसकी कोहनी को अपनी कोहनी से सटा दिया.. लेकिन वो कुछ नहीं बोली.. उस समय रात के 8 बज रहे थे और मैं खाना खाने के बाद हॉल मैं बैठकर टीवी देख रहा था और मामी, मामा के कपड़े पेक कर रही थी.. वो दोनों बेडरूम में थे.

सब सामान पैक होने के बाद हम सब हॉल में बैठकर बातें करने लगे और फिर मामा ने मेरी नौकरी के बारे में पूछा और कंपनी में ही कोई लड़की देखकर शादी करने को कहा और फिर ऐसे ही टाईम पास बातें होती रही. फिर मामी आकर मेरे पैरों के पास नीचे बैठ गयी और मैंने अंजान बनकर उनसे अपने पैर सटा दिए.. फिर वो मेरे पैरों से अपनी कमर सटाकर पूरी तरह चिपककर बैठ गयी. फिर करीब 12 बजे हम घर से निकले और मेरे मामा कार ड्राईव कर रहे थे और मामी उनके पास में बैठी थी और मैं पीछे बैठा था. फिर मैंने मौका देखकर मामी की सीट के साईड से अपना सीधा हाथ डाला.. तो वो सीधा उनके बूब्स के पास पहुंच गया. मामी ने बिना बांह की ड्रेस पहनी थी और उनके भरे हुए बूब्स को मैं धीरे धीरे छू रहा था.. तो मामी ने मेरा हाथ पकड़कर हल्के से दबा दिया तो मैं मन ही मन भगवान को धन्यवाद देने लगा और मैंने खुश होकर उनका दूसरा बूब्स पूरा पकड़ लिया और दबाने लगा. मामी ने झट से अपनी ओढ़नी से मेरा हाथ ढक लिया और फिर उसने उसके मोबाईल से मुझे एक मेसेज किया.. अभी पूरी रात हमारी है थोड़ा सब्र करो. मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ.

फिर क्या था हमने मामा को ड्रॉप किया और थोड़ी देर हम एयरपोर्ट पर ही बैठे और फिर जैसे ही मामा चले गये तो मामी ने मेरा हाथ पकड़ लिया. फिर हम कार में आ गए और अंदर बैठते ही मामी मेरी तरफ देखकर मुस्कुराने लगी. मैंने उसको अपनी तरफ खींचकर एक किस किया और उसने भी मेरा अच्छा साथ दिया और हम एक दूसरे की जीभ को चूस रहे थे. मैं उसके होंठो को चूस रहा था और यह सब एयरपोर्ट की पार्किंग में चल रहा था. फिर मैंने अपना एक हाथ डालकर मामी के मोटे मोटे बूब्स पकड़ लिए और उसने भी अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ कर ज़ोर ज़ोर से दबाना शुरू किया और हम एक दूसरे को बहुत टाईट किस कर रहे थे. फिर मामी बोली कि चलो घर पर चलते है और फिर मैंने कार निकाली.. पुणे में मामा के फ्लॅट से एयरपोर्ट 40 किलोमीटर दूर है और हम लोग मज़ाक मस्ती करते करते घर आ गये आते वक़्त मैंने एक मेडिकल पर गाड़ी रोक कर कंडोम का पॅकेट लिया.

यह कहानी आप mxcc.ru में पढ़ रहें हैं।

हम घर पर पहुंच गये और घर जाते ही जैसे ही मामी ने दरवाजा खोला हम दोनों ने एक दूसरे को कसकर हग किया और खड़े खड़े किस करने लगे और मैं अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ रहा था.. मामी पूरी मस्ती में आ गई थी. फिर उसने मेरी शर्ट को निकाल दिया और मेरी छाती पर बालों को देखकर वो बहुत खुश हो गयी और पागलों की तरह मेरी छाती पर हाथ घुमाने लगी. फिर हम बेडरूम में चले गये और एक लम्बा किस करते करते मैंने मामी को बेड पर धक्का दिया. फिर मैं मामी की जाघों में मुहं डालकर किस करने लगा.. उसके पैरों को चूमने लगा. फिर मैं उसकी गोरी मोटी जांघो पर टूट पड़ा और उन्हें किस करने और दबाने लगा. इतनी मस्त चिकनी जांघे वाह्ह क्या बताऊ आपको? फिर मैंने उसकी पेंटी पर चूमना शुरू किया अब मामी मेरे बालों में हाथ घुमा रही थी और मुहं से आवाज़े निकाल रही थी आअहह मोन्टी नहीं प्लीज़ मत कर ओफफफफ्फ़ मोन्टी. फिर मैंने उसकी पेंटी को अपने दांत से पकड़ कर नीचे खींच लिया और अब मेरे सामने मामी की चिकनी चूत और मोटी गांड आअहह क्या बताऊ आपको? जिस मोटी गांड को देख कर मैं मुठ मारा करता था वो आज मेरे सामने नंगी पड़ी थी.

मैं उसकी गांड और चूत पर टूट पड़ा और चाट चाटकर पूरी गांड गीली कर दी और चूत में उंगलियां डाल रहा था और फिर मैंने चूत को फैलाकर अंदर जीभ डाली तो मामी आऊट ऑफ कंट्रोल हो गयी और मेरे सर को अपनी जांघो के बीच में दबाकर अपनी चूत को मेरे मुहं में दबाने लगी अह्ह्ह डियर और करो बहुत अच्छा लग रहा है पहली बार कोई मेरी चूत चाट रहा है और करो मैं तुम्हारे मुहं में अपना पानी गिराना चाहती हूँ प्लीज़ चूसो खा जाओ इस चूत को आहह मोन्टी तू बहुत मस्त चूसता है. फिर मैंने अपनी जीभ उसकी गांड के छेद पर रखकर घुमाई.. तो वो पागल हो गयी. फिर वो अपनी उंगलियां अपनी चूत में डालने लगी तो मैंने उसकी चूत चूसना जारी रखा वो ज़ोर ज़ोर से चिल्लाती रही. मेरे मुहं पर ज़ोर ज़ोर से चूत दबा रही थी और फिर वो झड़ गयी. तो मैं उठा और उसके सारे कपड़े निकाल दिए और मेरे कपड़े भी निकाल दिए.. उसको दो तीन जोरदार किस किए फिर उसके नंगे बूब्स के साथ खेलने लगा पहले उसकी नाभि में जीभ घुमाई.. उसकी निप्पल को चूस रहा था फिर दूसरे बूब्स को चूसने लगा और पहले वाले बूब्स को हाथ में लेकर दबा रहा था और जैसे ही मैंने उसके निप्पल पर जीभ घुमाना शुरू किया वो पागल सी हो गई और कहने लगी चूस मोन्टी पूरा दूध निकाल दे.. मेरे बूब्स से और ज़ोर से चूस आआहह मज़ा आ रहा है.. ऊओफफफफ्फ़ ज़ोर से चूस आअहह.

फिर मैं दोनों बूब्स को चूसने के बाद उसके पेट पर किस करने लगा और फिर मैंने उसकी नाभि में जीभ डाली और चूसने लगा अब वो पूरी तरह पागल हो गयी थी और मेरा लंड पकड़ पकड़कर अपनी चूत पर रगड़ रही थी. तभी मैंने कंडोम निकाला और लंड पर लगाया और मामी तो पैर फैलाकर पहले से ही तैयार थी और कंडोम पहनने से पहले ही रोमांस के टाईम पर एक बार मेरा वीर्य निकल गया था. फिर मैंने अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर ऊपर से नीचे रगड़ने लगा वो पागल हो रही थी और उसकी चूत बहुत गीली थी. फिर मैंने धीरे से थोड़ा लंड अंदर डाला तो वो बहुत कामुक हो गयी और मुझे कसकर पकड़ लिया फिर मैं धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगा और मामी आखें बंद करके मज़े ले रही थी. फिर मैं थोड़ा रुका और उसको किस किया.. उसके वो गीले होंठो का अहसास बहुत मस्त हो रहा था. फिर मैंने उसके बूब्स दबाए और उसको चोदने लगा.. मामी आअहह मोन्टी और कर थोड़ा और ज़ोर से कर बहुत अच्छा लग रहा है रे आआहह चोद मुझे ज़ोर से बेबी आअहह दो और दो ज़ोर से और दो घुसा दो पूरा लंड गहराइयों मैं अहह चोद ज़ोर ज़ोर से चोद अह्ह्ह मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूँ डार्लिंग.

मैं उसको ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदे जा रहा था और चूम रहा था.. बूब्स दबाए जा रहा था. फिर मैंने अपनी स्पीड अचानक बड़ा दी और मामी को बोला कि मैं अब झड़ने वाला हूँ. फिर मैं उसको तेज़ धक्के लगाते लगाते उसकी चूत में ही झड़ गया.. तो उसने अपने दोनों पैरों से मुझे जकड़ लिया और मैं उसके ऊपर लेट गया उसके होंठ पर होंठ डाले और किस करने लगा. उसने मेरी पीठ पर नाख़ून के निशान बना दिए थे और वो बोली कि मोन्टी इतना सेक्स तो मैंने कभी जिंदगी में नहीं किया तुमने मुझे आज चोदकर मेरे सपनों को पूरा कर दिया. फिर मैंने उस रात और एक बार उसको चोदा और फिर अगले दो दिन जी भरकर सेक्स किया ..



"sex kahani and photo""hindi sexy hot kahani""indian se stories"grupsex"fucking story in hindi""hindi me sexi kahani""ma beta sex story hindi""chudai ki kahani in hindi""bahan ki chudai kahani""hind sex""chudai parivar""hindi sexi""sexstories in hindi""chudai ki kahani in hindi""sex story with images""india sex stories""saali ki chudaai""new sex stories in hindi""gay sex stories in hindi""sax stories in hindi""sex story new in hindi""sali ki chut""chudai ki hindi kahani""sexy gaand""hot sexy stories"freesexstory"indian sexy khani""hindi sxe kahani""बहन की चुदाई""teen sex stories""hindi sex story baap beti""amma sex stories""bahan ki chudayi""ma ki chudai""indian chudai ki kahani""hindi chudai kahania""indian sex stories""hindi sexi storise""sexi khani""hot stories hindi""husband and wife sex story in hindi""behen ki cudai""hindisex stories""chudai ki""sec story""kamukta com hindi kahani""mastram sex""didi ki chudai dekhi""gay chudai""mom ki sex story""hindi sax storis""sexy hindi story""mom son sex stories in hindi""bhai bahan ki chudai"hindisexstory"boobs sucking stories""sex with chachi""grup sex""saxy kahni""boy and girl sex story""hot sex story""indian sex syories""mom son sex story""sex khani""sexi kahaniya""indian sec stories""latest sex stories""सेक्सी हॉट स्टोरी""indian real sex stories""sex story hindi in""www hindi sexi story com""behan ki chudai sex story""babhi ki chudai""sex story hindi in""www kamukta stories""bhai se chudai""kamwali sex"