मेरी भाभी की चुदाई कहानी

(Meri Bhabhi KI Chudai Kahani)

मेरे इम्तहान पास आ गए थे अब मैं अपनी पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान दे रहा था लेकिन भाभी की याद आ ही जाती थी।

उस दिन जब मैं स्कूल से घर आया तो मेरी मम्मी ने बताया की अगले हफ्ते तुम्हारी मौसी की शादी में जाना है।
तो मैंने कहा- मेरे तो एक्साम्स है मैं कैसे जा सकता हूँ?
तो घर में सभी चिंतित हो गए।

ये सारी बातें भाभी को पता चली तो उन्होंने कहा- अरे इसे मेरे घर छोड़ दीजियेगा, मैं इसे पढ़़ा भी दिया करूंगी।
शनिवार को सब लोग जबल पुर चले गए और मैं अपनी सारी किताबे ले कर भाभी के घर चला आया।

मैंने और भइया ने साथ में ही नाश्ता कर लिया तो भइया ने कहा- चलो मैं तुम्हे स्कूल छोड़ते हुए जाऊँगा.

स्कूल से मैं घर लगभग तीन बजे ही आ गया, भाभी ने दरवाजा खोला, भाभी ने आज सफ़ेद रंग की चूडीदार और काले रंग का कुरता पहन रखा था, आज वो कुछ जादा ही प्रसन्न दिख रही थी, खाना खा कर हम दोनों बेड रूम में आ गए.
भाभी ने छोटू को पहले से ही सुला दिया था।

भाभी ने बताया- मेरे ब्रा की साइज़ बढ़ गयी है.
मैंने हंसते हुए कहा- बंदा इतनी मेहनत कर रहा है तो उसका फल भी मिलेगा।

भाभी ने कहा- आज हम दोनों एक खेल खेलेंगे, मैं तुम्हे एक फ़िल्म दिखाऊँगी, फ़िर हम दोनों सेक्स करेंगे, फ़िल्म देखते समय हम अपने कपड़े उतार देंगे और एक दूसरे को टच नहीं करेंगे.
मैंने कहा- भाभी, ऐसे तो मजा नहीं आयेगा.
तो उसने कहा- तुम तो बस देखते जाओ।

भाभी ने सी डी पर फ़िल्म लगा दी- अरे ये तो कोई सेक्सी फ़िल्म थी.
भाभी ने कहा- हम एक दूसरे के कपड़े उतार देते हैं।
हम दोनों बेड पर ही बैठ कर फ़िल्म देखने लगे।

फ़िल्म में औरत लगभग 40 साल की होगी और 25 साल का लड़का होगा, दोनों बाथ टब में नहा रहे थे, लड़का बाथ टब के किनारे बैठ गया, उस का लंड तना हुआ था, लड़की सोप लगा कर उसके लंड को सहलाने लगी, लड़का तनाव में भरता जा रहा था.

फ़िर लड़का सोप लेकर लड़की की चूत रगड़ने लगा, उसके बूब्स बहुत बड़े बड़े थे, दोनों एक दूसरे के साथ खेलते जा रहे थे, फ़िर दोनों नंगे ही बेड रूम में चले गए.

लड़की बेड पर लेट गयी, लड़का तौलिये से लड़की का बदन सुखाने लगा. उसके बाद वो लड़की के पैरों की ऊँगलियों को अपने होंठों से चाटने लगा, फ़िर वो उसकी चूत पर अपना मुंह लगा दिया। इधर मेरा लंड तनाव से फटने लगा, मैं अपने हाथों से अपने लंड को हिलाने लगा और मने देखा कि भाभी भी अपनी उन्गलियों को अपनी चूत पर रगड़ रही है.

हम दोनों एक दूसरे की जरूरत को समझते हुए पास आ गए. भाभी ने कहा- तुम भी मेरी उन्गलियों को चूसो.
मैं पागलों की तरह भाभी का तलवा चाटने लगा.

भाभी के पैर बहुत सुंदर थे, भाभी मेरे लंड को हिलाती रही.

मैं अब भाभी की जांघो को चूस रहा था इसमे मुझे बहुत मजा आ रहा था। धीरे धीरे मेरे होंठ भाभी की चूत पर पहुँच गए और मैं अमृत का रसास्वादन कराने लगा, भाभी ने मेरे सर को अपने हाथों से पकड़ रखा था, भाभी धीरे धीरे सीत्कार ले रही थी.

अचानक भाभी ने कहा- इकबाल, तुम अपनी जीभ मेरे चूत में घुसाओ! और मेरी चूत में तेजी से घुमाओ.
मैं वैसा ही करने लगा; मेरा लंड तना हुआ था और भाभी ने उसे अपनी जांघों के बीच में दबा रखा था.

मैंने अपने लंड को रगड़ना शुरू कर दिया, भाभी ने कहा इकबाल- तुम मुझे गन्दी बातें कर के सुनाओ.
मैंने कहा- तुम तो मुझे चोदने नहीं दे रही हो, यदि तुम मुझे चोदने दो तो मैं तुम्हारी चूत की इच्छा पूरी कर दूँगा!

भाभी आआः अआः ऊओह, ऊओह की आवाज कर रही थी।

तभी भाभी ने अपनी चूत का पानी छोड़ दिया, मैंने सारा अमृत चाट लिया.

मैं भी अब झड़ने वाला था, भाभी ने कहा- तुम ऊपर आकर मेरे चुन्चियों पर झड़ो!

मैं उनके ऊपर आ गया, भाभी ने मेरे लंड को पकड़ कर मेरा रस पूरी तरह निचोड़ दिया और कहा- तुम इससे मेरी चुन्चियों पर मालिश कर दो.
मैंने उसकी चुन्चियों की मालिश काफी देर तक की.

भाभी ने कहा- अब मुझे बाथरूम जाना है!
मैंने भाभी से कहा- मैं भी आपके साथ चलता हूँ!

भाभी मान गयी, भाभी ने मेरे सामने खड़े हो कर मूतना शुरू कर दिया, मैंने भाभी कि चूत को अपने हाथों से कवर कर लिया. भाभी के गर्म मूत से मुझे बहुत उत्तेजना हो रही थी, मेरा पूरा शरीर रोमांचित था, मैं वहीं पर चूत में अपना लंड घुसाने लगा. मूत मेरे लंड पर होता हुआ मेरी जांघों से बह रहा था.
जब भाभी ने मूतना बंद किया तो मैंने भाभी के ऊपर चूत पर मूतना शुरू किया.

भाभी ने कहा- तुम ऐसे ही मेरी चूत में डाल दो.
मैंने भाभी की चूत में अपना गर्म लंड घुसा दिया, भाभी को बहुत मजा आ रहा था.

कुछ देर बाद भाभी तेजी से अपना चूतड हिलाते हुए कहा- चोदो राजा, चोदो, आज से तुम ही मेरे पति हो!
मैं यह सुन कर और बुरी तरह से चोदते हुए झड़ गया।
भाभी ने कहा- आज बहुत मजा आया।

भाभी ने कहा- आज मैंने चार बार चरम सुख प्राप्त किया।
मैंने भाभी से कहा- चरम सुख क्या होता है?

तो भाभी ने कहा ये वो बाद में बताएंगी



"nangi chut ki kahani""indian sex kahani""chut sex""sexstories in hindi""hot lesbian sex stories""sex kahani.com""sex hindi stori""maa beta sex""hot stories hindi""indian bhabhi sex stories""online sex stories""www kamvasna com""sexi khaniya""gay sex story in hindi""sexy story in hindi latest""ma ki chudai""sax story""sexy khaniya""mom and son sex stories""sexy hindi katha"mastram.com"indian hindi sex stories""indian sex stor""sex story girl""bhai behan sex stories""kamukta hindi sex story"hindisexystory"naukar ne choda""xxx story in hindi""chudai ki hindi kahani""hindi sex stroy""hot hindi sex""saxy hot story""new hindi sex stories"kamukta."hot sexi story in hindi""sexi khani com""porn kahaniya""didi ki chudai""indian sex st""maa ki chudai hindi"indiansexstoriea"brother sister sex story""indian sex in office""bhabhi ko train me choda""bhabhi ko train me choda""baap beti ki sexy kahani""sex stories with pics""sex storys""www hindi chudai kahani com"kamukta"real hot story in hindi""maa sexy story""new chudai story""suhagrat ki chudai ki kahani""mom ki chudai""group chudai kahani""biwi ko chudwaya""sexy hindi kahaniy""chudai ki kahani in hindi""himdi sexy story""sexy stories hindi""desi sex stories""hindi sec story"www.antarvashna.com"chudai ki story""mausi ki chudai""sex kahaniya"freesexstory"sex story with photo""incent sex stories""hindi gay sex story""hindi sexi kahaniya""chudai ki khani""gand ki chudai story""hindi hot store"