मिल्क जैसी भाभी की चुदाई

(Milk Jaisi Bhabhi Ki Chudai)

हेल्लो दोस्तों मै निक। अमरावती महाराष्ट्र साथ ये सच्ची घटना अभी कुछ दिन पहले हुई है. दोस्तो, पर्सनल कारणों से मैं इस कहानी की नायिका का नाम और जगह के नाम काल्पनिक ही लिखूंगा ताकि किसी की पहचान छिपी ही रहे.
उस दिन मै email check कर रहा था . यही कोई 11 बजे के आसपास का समय था, तभी मेरे मोबाइल पर एक अन्जान ईमेल आया.
मैं- हैलो!
सामने से किसी महिला थी हैलो, आप निक बोल रहे हैं?
मैं- हां, मैं निक बोल रहा हूँ, पर आप कौन?
महिला- हाय, मैं स्वाति (काल्पनिक नाम) बोल रही हूँ, अकोला से.
मैं- हाँ, बोलिये?
कल्पना- मुझे आपके बारे में एक विज्ञापन से पता चला है.

मैं समझ गया कि मैडम को सर्विस चाहिए- ओके, बोलिये कब और कहां मिलना पसंद करेंगी आप?
स्वाति- विज्ञापन के जरिये मुझे आपके बारे में काफी कुछ पता चल गया है, बस अभी तक आपकी फोटोज नहीं देख पायी हूँ, क्या मैं आपकी तस्वीर देख सकती हूं?
मैं- हाँ, जरूर … बोलिये मैं आपके साथ अपनी फोटोज कैसे शेयर करूँ?स्वाति – आप अपना व्हाट्सएप नंबर दीजिये, मैं आपको सामने से मैसेज करती हूं, फिर आप अपनी फोटोज भेजिए.
मैं- हाँ ठीक है, मेरा व्हाट्सएप नंबर ये है, जिस पर मैंने नंबर दे दिया – ओके, मैं करती हूं.
थोड़ी ही देर में मुझे व्हाट्सएप पर एक मैसेज ‘हैलो …’ लिखा हुआ मिला. मैं समझ गया कि स्वाति का ही नंबर है. फिर मैंने भी अपनी 4-5 फोटोज उसी नंबर पर भेज दिए.
उसके 5-7 मिनट बाद फिर से मुझे स्वाति का कॉल आया- हैलो निक
मैं- हाँ बोलिये
स्वाति- मुझे आपकी फोटोज अच्छी लगी हैं … आप अच्छे लग रहे हो.
मैं- थैंक यू मैडम.
स्वाति- क्या मैं अभी आपको वीडियो कॉल कर सकती हूं?
मैं- सॉरी मैडम, अभी मैं काम में बिजी हूँ. अगर आपको कोई दिक्कत न हो, तो मैं 5 मिनट में बाद आपको कॉल करूँ?
स्वाति- ठीक है, आप मुझे कॉल करो.
मैं- ओके, मैं करता हूँ.
मैं समझ रहा था कि मैडम क्रॉस वेरीफाई करना चाहती हैं कि जो मैंने उन्हें फोटोज भेजे हैं, वो सब मेरे ही हैं या किसी और के हैं. मैंने तो अपने ही पिक्स भेजे थे, तो मुझे उनकी इस डिमांड से कोई दिक्कत नहीं थी.
फिर किसी सेफ जगह जाकर और आजूबाजू कोई तो नही है चेक किया फिर स्वाति को वीडियो कॉल लगाया … और जल्दी ही मेरा कॉल कनेक्ट भी हो गया. मेरे मोबाइल की स्क्रीन पर कल्पना के साइड का कुछ भी नहीं दिख रहा था, शायद उसने फ्रंट कैमरा पर अपनी उंगली रखी थी ताकि वो मुझे तो देख सकें, लेकिन मैं उन्हें न देख सकूं. मैंने भी अपने फ़ोन के कैमरे को ऐसे एंगल पर होल्ड किया कि वो मुझे अच्छे से देख सकें. कैमरे पर उंगली रखने की वजह से मैं सिर्फ उनकी आवाज सुन पा रहा था.

थोड़ी देर ऐसे ही वीडियो कॉल के बाद मैडम बोलीं- मैं आपको थोड़ी देर में बताती हूं.
मैंने भी ओके बोल कर कॉल डिसकनेक्ट कर दिया और अपने काम में फिर से लग गया.
सच कहूँ तो दोस्तो, मेरे भी मन में कई सवाल चल रहे थे. जैसे कि क्या स्वाति मैं सच में पसंद आया या नहीं? स्वाति को सच में मुझसे मिलना है या वो सिर्फ टाइम पास कर रही थी? वो दिखने में कैसी होगी? दोस्तो, भले ही मैं प्ले ब्वॉय का काम करता हूँ, लेकिन हूँ तो मर्द ही ना, मैं भी चाहता हूँ सामने वाला भी ठीक ठाक हो, तो सर्विस देने में भी मज़ा आए.
इन्हीं सब सवालों की उधेड़बुन और कामों में मैं लगा रहा … और शाम को काम खत्म करने के बाद घर आ गया.
रात को करीब 8 बजे व्हाट्सएप पर मुझे स्वाति का हैलो लिखा हुआ मैसेज मिला. मैंने भी हैलो लिख कर रिप्लाई कर दिया. उसके आगे हमारी जो भी बातें हुईं, वो सब व्हाट्सएप पर कुछ इस तरह हुई थीं. हमारी ज्यादातर बातें इंग्लिश में ही होती थीं, पर स्टोरी के हिसाब से मैं हमारी बातचीत को हिंदी में लिख रहा हूँ.
स्वाति- आप कब फ्री हो?
मैं- आप जब बोलेंगी, तब मैं मैनेज कर लूंगा, बस आप ये बताइए कि आपको कब और कहां मिलना है और कितने टाइम के लिए?
स्वाति- आप परसों दोपहर में मिल सकते हैं?
मैं- दोपहर में कब और कहां?
स्वाति- दोपहर में 3 बजे तक.
मैं- हां मैं आ जाऊंगा, पर आना कहां है?
स्वाति- परसों मेरे घर वाले दोपहर में मुम्बुई जा रहे हैं किसी शादी में शरीक होने. उनके जाने के बाद मैं आपको एड्रेस मैसेज कर दूंगी.
मैं- ठीक है, पर कितने टाइम के लिए मिलना है आपको?
स्वाति- पता नहीं, सिचुएशन पर डिपेंड करेगा.
मैं- ठीक है.

इसके बाद हमारी कुछ फॉर्मल बातें हुईं और एक दूसरे को बाय बोल कर मैं अपने काम में लग गया.
मेरे दिमाग में फिर से वही सब सवाल चलने लगे, जो दोपहर में चल रहा था. अगले दिन भी हमारी नार्मल बातें हुईं. इस दौरान मैंने उन्हें बता दिया कि अभी तक तो मेरे दिमाग में फिर से वही सब सवाल चलने लगे, इस दौरान मैंने उन्हें बता दिया कि अभी तक तो मैं फ्री हूँ, लेकिन आपने कुछ भी फिक्स नहीं किया और मुझे किसी और ने बुक कर लिया, तो मेरा आना मुश्किल हो जाएगा.
उस वक़्त स्वाति ने कुछ भी कन्फर्म नहीं बोला, तो मुझे लगा शायद टाइम पास ही कर रही थीं. इसलिए मैंने भी उतना ध्यान नहीं दिया और अपने कामों में लगा रहा.
फिर आया वो दिन … सच कहूँ तो मुझे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं था कि स्वाति मैसेज आएगा या वो मुझे बुलाएंगी, लेकिन ऐसा हुआ.
सुबह करीब 11 बजे मुझे उनका मैसेज व्हाट्सएप्प पर आया.
स्वाति- गुड मॉर्निंग.
मैंने भी गुड मॉर्निंग लिख कर रिप्लाई कर दिया.
स्वाति- अभी एक डेढ़ घंटे में सब निकल रहे हैं, आप तैयार रहना. सबके निकलते ही मैं आपको कॉल करूँगी.
मैं- पर मुझे आना कहां है, ये तो बताइए?
फिर स्वाति मुझे अपना एड्रेस भेजा और बोला कि जब तक मैं कॉल ना करूँ, तब तक मत निकलना.
मैंने भी ओके लिख कर रिप्लाई कर दिया.
सच बता रहा हूँ दोस्तो, उस टाइम तक मुझे स्वाति के बारे में कुछ भी मालूम नहीं था. मेरे दिमाग में भी बहुत कुछ चल रहा था, जैसे कि स्वाति कैसी दिखती होंगीं? क्या क्या करना पड़ेगा आज? कैसे खुश करूँगा उन्हें? और खुश कर भी पाऊंगा या नहीं!
यही सब सवाल मन में लिए मैं अपनी तैयारी में लग गया.
करीब एक घंटे बाद ही मुझे स्वाति का कॉल आया-
हैलो निक.
मैं- हां बोलिये.
स्वाति- आप निकलो अब … और मेरी बिल्डिंग के गेट पर आकर मुझे कॉल करो.
मैं- ओके
स्वाति ने जो एड्रेस दिया था, अकोला , तो मैं भी फटाफट निकल गया और फिर मैंने स्वाति को कॉल किया और बताया कि मैं गेट पर हूँ.
स्वाति- बस 5 मिनट वहीं रुको, अभी थोड़ी देर में तुम्हारे पास एक ब्लैक कलर की होंडा सेडान आकर रुकेगी, उसमें बैठ जाना.
मैं- ठीक है.
मैं गेट के पास इंतजार करने लगा. सोसाइटी देखकर ही लग रहा था कि यहां काफी रईस लोग रहते हैं और तो और सोसाइटी थी भी एकदम अँधेरी के पॉश एरिया में. मुझे स्वाति ने जिस बिल्डिंग का नाम बताया था, वो 21 मंजिल की एकदम शानदार बिल्डिंग थी.
सच कह रहा हूँ दोस्तो, मन में खुशी भी हो रही थी कि आज चोदने को एकदम मॉडर्न मॉल मिलेगी … और डर भी लग रहा था कि कहीं मेरी सोच गलत न साबित हो जाए.
करीब 4-5 मिनट बाद मुझे एक ब्लैक कलर की सेडान गेट से बाहर आती दिखी. जब वो मेरे पास से गुजरी, तो जैसे ही अन्दर से इशारा हुआ कि रुको वापस आती हूँ. मेरी तो कुछ समझ में ही नहीं आ रहा था कि वास्तव में हो क्या रहा है. फिर भी मैं वहीं इंतजार करने लगा. उसके करीब 10 मिनट बाद मुझे वही गाड़ी फिर से आती दिखी, लेकिन इस बार गाड़ी सोसाइटी के बाहर नहीं, अन्दर की तरफ जाने वाली थी. गाड़ी मेरे पास आकर रुकी और किसी ने इशारे से मुझे अन्दर बैठने को बोला. मैं भी चुपचाप पिछला दरवाजा खोल कर बैठ गया.
गाड़ी कोई महिला चला रही थी, जिसने अपना मुँह स्कार्फ़ से ढका था. अब मुझे ये तो नहीं मालूम था कि ये स्वाति ही है या कोई और? इसलिए मेरी कुछ भी बोलने या पूछने की हिम्मत नहीं हुई और मैं बस चुपचाप बैठा रहा.
थोड़ी ही देर में हम पार्किंग में पहुंच गए, तब उस महिला ने मुझे लिफ्ट के पास जाकर इंतजार करने को बोला. मैंने भी अपना बैग लिया और लिफ्ट के पास जाकर वेट करने लगा. थोड़ी ही देर में वो महिला भी लिफ्ट के पास आकर लिफ्ट के नीचे आने का वेट करने लगी.
अभी भी मेरी उनसे कोई बातचीत नहीं हो रही थी और मेरे दिमाग में सवालों का बवंडर चल रहा था. मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि इस महिला से बात करूँ या नहीं? अगर उस वक़्त उस महिला के बारे में कुछ भी पता होता, तो शायद बात करने की हिम्मत दिखा पाता. पर यहां तो मुझे खुद को कुछ मालूम नहीं था, तो क्या बात करता.
इतने में लिफ्ट भी नीचे आ गई. महिला लिफ्ट का दरवाजा खोलते हुए बोली- चलो.
मैं भी ह्म्म्म करके लिफ्ट में आ गया. लिफ्ट में पहुंचने के बाद महिला ने 18 नंबर का बटन दबाया, इसका मतलब हम 18 वीं मंजिल पर जा रहे थे. जैसे ही लिफ्ट ऊपर की तरफ चलने लगी, तब पहली बार उस महिला ने मेरी तरफ देखकर मुझसे ‘हैलो…’ बोला.
मैंने भी सामने से ‘हैलो..’ बोल कर जवाब दिया. थोड़ी देर चुप रहने के बाद.
मैं- आप?
महिला- मैं ही स्वाति हूँ.
सच कह रहा हूँ, तब जाकर मुझमें थोड़ी हिम्मत आई और मैंने राहत महसूस की.
स्वाति मेरे से आगे खड़ी थी, तो मैं पीछे से ही अपनी आँखों से उनकी बॉडी का मेज़रमेंट लेने लगा. अभी तक स्वाति ने स्कार्फ़ निकाला नहीं था और उन्हें देखने के लिए मेरी उत्सुकता वैसे ही बनी हुई थी. अभी तक मैंने कल्पना का चेहरा देखा नहीं था, तो मैं इस समय उनकी उम्र बताने की अवस्था में नहीं था. पर पीछे से उनका शरीर देखकर लग रहा था कि उनकी यही कोई 26-27 साल उम्र होगी.
परफेक्ट फिगर, कूल्हे थोड़े उठे हुए, लंबाई 5 फुट 6 इंच, एकदम स्लिम तो नहीं, पर भरी बदन की मल्लिका थी कल्पना. ना मोटी ना पतली, एकदम परफेक्ट.
कुछ देर में ही हम अपनी मंजिल पर पहुंच गए. लिफ्ट से निकलते ही उसने सबसे पहले अपना स्कार्फ़ हटाया और मेरी तरफ देख कर मुस्कुराई … और दरवाजे के लॉक खोलने लगी. उस वक़्त पहली बार मैंने स्वाति को देखा और बस देखते ही रह गया.
कसम खा कर कहता हूं दोस्तो, उस वक़्त मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया था. आप लोग मेरे द्वारा उसकी खूबसूरती के वर्णन का सिर्फ अंदाज़ा लगाने की कोशिश करो.
जैसा कि मैंने पहले ही उसकी उम्र का अंदाज़ा लगाया था, यही कोई 26 साल, रंग बर्फ के जैसे एकदम सफेद, छाती 32-33 इंच, कमर 30 इंच के आसपास, कूल्हे 33-34 इंच के, मांग में हल्की सी सिंदूर की लकीर, माथे पर डायमंड जड़ित स्टाइलिश बिंदी, होंठों पर गहरे लाल रंग की लिपस्टिक, नाक एकदम पतली सी, होंठ जैसे गुलाब की पंखुड़ी, गाल ऐसे कि जैसे मखमल, कान में भी स्टाइलिश डायमंड के रिंग, महरून कलर का शार्ट टॉप, जो कंधे से खुला रहता है और ब्लू कलर के जीन्स में एकदम काम की देवी कह लो या अप्सरा, सब कम ही होगा.
जब वो दरवाजे की लॉक खोल रही थीं, तब उनके कान की बाले बार बार उनके गालों को चूम रहे थे और मुझे चिड़ा रहे थे.
दोस्तो, और क्या कहूं? जानता हूं आप लोग की हालत सिर्फ कल्पना करके ही खराब हो गयी होगी, तो सोचो उस समय मेरी क्या हालत हुई होगी?
सच में हर मर्द के ख्वाबों वाली स्वाति जी .
उस समय मेरे दिमाग में सिर्फ एक सवाल आया और वो ये था कि काम की देवी को मेरे जैसे बंदे की क्यों जरूरत पड़ गयी? ये तो जहां खड़ी हो जाए, वहीं 10-15 मर्द या लड़के लाइन लगा कर सिर्फ इन्हें देखने के लिए खड़े हो जाएंगे. इन्हें तो सिर्फ एक इशारा करने की जरूरत है, बस बाकी सब खुद ब खुद इनके मन का करने को तैयार खड़े रहेंगे.



"hindi kahani"hotsexstory"sexy group story""new hindi sexy store""sexy aunty kahani""sex story in hindi""hot sex story""hindi true sex story""sexstoryin hindi""grup sex""best story porn""ma ki chudai""brother sister sex stories""hindi latest sexy story""maa beti ki chudai""kamukta com hindi me""chut me land story""bhabi sexy story""hinde sexstory""hot sex bhabhi"mastram.net"hindi sax"www.chodan.com"best story porn""very sex story""antarvasna mobile""mausi ki chudai ki kahani hindi mai""www hindi sexi story com""sex stories""hindi sex kahaniya in hindi""indian sex sto""indian sex sto""hindi saxy story com""new sexy story com""sexy storis in hindi""sex hindi kahani com""hindi chudai ki story""office sex stories""indian sex in hindi""desi sexy stories""indian sex storoes""chodan cim""hot sex kahani""sexy stoey in hindi"newsexstory"hot indian sex stories"hindisex"biwi ko chudwaya""xxx story""sex storey""sexy storirs""desi sex story""sex storie""sexy story in hindi language""hindi sexy storiea""full sexy story""indian hot sex story""hindi saxy storey""sex hot stories""new sex story in hindi""very hot sexy story""kaumkta com""free sex stories in hindi""indain sexy story""hot sexy story""train me chudai ki kahani""gay sexy kahani""sexy storis""best sex story""हॉट सेक्स""www kamukta sex com""neha ki chudai""indian hot sex story""group chudai kahani""bhai behan ki chudai"chodancom"xx hindi stori"